जगदीश त्रिपाठी

My blogs

Blogs I follow

About me

Gender MALE
Industry Publishing
Occupation पत्रकारिता
Location सुल्तानपुर, उत्तर प्रदेश, India
Introduction नाचीज बेहद बदतमीज,बदतहजीब, बददिमाग,बदमिजाज,बदअक्ल,बदशक्ल, बेवफा,बेहया,बेगैरत,बेमुरौव्वत, बदजुबान,बदगुमान शख्स है। इस तरह के कोई और विशेषण बचे हों तो आप खुद भी जोड़ सकते हैं। नाचीज उसपर निश्चित रूप से खरा उतरेगा। बावजूद इसके सुल्तानपुर (अवध)से ताल्लुक रखने वाले इस शख्स को भले लोग अच्छे लगते हैं। लेकिन यह बात भी ध्रुव सत्य है कि नाचीज़ ख़ुद भला आदमी नहीं है। पर न जाने क्यों नाचीज़ को बहुत सारे भले लोगों का प्यार हासिल है। है न ताज्जुब की बात। दो बच्चों के पालन पोषण का दायित्व निभा रहा, रोज़ी रोटी के लिए लफ्जों की तिजारत करने वाला यह शख्स ख़ुद को ख़बरनवीस कहता है और देश के सबसे बड़े मीडिया समूह दैनिक जागरण का मुलाजिम है। यह नाचीज शख्स किसी के भरोसे को कत्ल करना दुनिया का सबसे बड़ा अपराध मानता है। कोशिश करता है कि उससे यह अपकृत्य न हो।
Interests पढ़ना, लिखना, कैमरे से तस्वीरें बनाना, रिश्ते बनाना और उन्हें निभाना
Favorite Movies पार, प्रहार, यथार्थ, उपकार, पहचान, ब्लैक
Favorite Music इला अरुण, फाल्गुनी पाठक, शारदा सिन्हा के गाए गीत या फिर जगजीत सिंह की गाई गजलें
Favorite Books हर पुस्तक पसंद, जो भी मिल जाती है बिना पूरी पढ़ लिए नहीं छोड़ता.भूल कर कोई पुस्तक मुझे न दीजिएगा.वापस नहीं मिलेगी.अच्छी पुस्तक की चोरी करने में भी कोई परहेज नहीं.यदि खरीदने पर न मिले तो.