डॉ. मंगत बादल

My blogs

Blogs I follow

About me

Gender MALE
Industry Education
Location रायसिंहनगर-335051 (श्रीगंगानगर), राजस्थान, India
Introduction राजस्थानी साहित्य रै साथै-साथै हिन्दी साहित्य रो इज जाणो-पिछाणो नांव है। आपरी राजस्थानी मांय 'रेत री पुकार`, 'दसमेस`, 'मीरां` चावी पोथ्यां है। हिन्दी मांय 'मत बांधो आकाश`, 'शब्दों की संसद`, 'इस मौसम में`, 'हम मनके इक हार के`, 'सीता`, 'यह दिल युग है`, 'वतन से दूर`, 'आंदोलन सामग्री के थोक विक्रेता`, 'कैकेयी` आद पोथ्यां आपरी कीरत नै बखाणै। आपनै कादम्बिनी व्यंग्य कथा प्रतियोगिता संभावना पुरस्कार (कादम्बिनी, मासिक, नयी दिल्ली), सुधीन्द्र पुरस्कार-1992 ('इस मौसम में` ऊपरां राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयपुर कानी सूं) गौरीशंकर शर्मा साहित्य सम्मान-2001 (भारतीय साहित्य कला परिषद्, भादरा), सूर्यमल्ल मीसण शिखर पुरस्कार-2006 ('दसमेस` ऊपरां राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, बीकानेर कानी सूं) मिल चुक्या है। इणां सूं अळगो आपरो राजस्थान कैनेडियन एसोशिएशन, कनाडा कानी सूं इज सनमान करीज्यो है। एम.ए. (हिन्दी), एम.फिल., पीएच.डी. ताणी री भणायी कर्योड़ा डॉ. मंगत बादल आजकालै शहीद भगतसिंह महाविद्यालय, रायसिंहनगर (श्रीगंगानगर) मांय हिन्दी विभागाध्यक्ष है। अठै छपी थकी कहाणी 'करज` नै प्रयास राजस्थानी कहाणी सनमान-2007 (प्रयास संस्थान, चूरू) दिरीज्यो है। ठिकाणो : शास्त्री कॉलोनी, रायसिंहनगर-335051 श्रीगंगानगर कानाबाती 01507 220717 / 09414989707